LIC Kanyadan Policy 2021 (कन्यादान पॉलिसी)

देश में एक कहावत है कि बेटी पैदा होते ही माता-पिता उसकी शादी के लिए पाई-पाई जोड़ना शुरू कर देते हैं. अगर आपके घर में भी कोई बेटी है और आपको उसकी शादी की चिंता सता रही है तो परेशान ना हों. आज हम आपको भारतीय जीवन बीमा निगम यानी की LIC की एक योजना के वारे मे बताऊंगा जो आपकी बेटी की कन्यादान के लिए मोटे फंड का इंतजाम करेगा. It is LIC Kanyadan Policy.

इस योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति अपनी बेटी की शादी के लिए इन्वेस्ट कर सकते है | यह प्लान 25 साल के लिए है | इस योजना के तहत लोगो को 121 रूपये प्रतिदिन बचा कर महीने के 3600 रूपये के प्रीमियम का भुगतान करना होगा लेकिन लोगो को प्रीमियम सिर्फ 22 साल तक ही देना होगा | इस एलआईसी कन्यादान पॉलिसी के 25 साल पूरे होने के बाद आपको 27 लाख रूपये दिए जायेगे |

तो क्या है ये LIC कन्यादान स्कीम आइये जानते हैं विस्तार से-

कन्यादान पॉलिसी स्कीम ये LIC की स्कीम है। इस प्लान को 13 साल से 25 साल तक के लिए ले सकते हैं। अगर कोई एलआईसी कन्यादान पॉलिसी स्कीम को लेता है तो पॉलिसी लेने के लिए पिता की उम्र 30 से 50 साल के बीच होनी चाहिए। इसके साथ ही, बेटी की न्यूनतम आयु कम से कम 1 साल की होनी चाहिए। बेसे तो यह स्कीम 25 साल के लिए रहती है। लेकिन यह कन्यादान पॉलिसी आपकी और आपकी बेटी की अलग-अलग आयु के हिसाब से भी मिल सकती है। बेटी की आयु के हिसाब से इस पॉलिसी की समय सीमा घटा दी जाएगी।

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी मे, कितनी प्रीमियम भरनी पड़ेगी

यह Policy 25 साल के लिए है। इस योजना के तहत अगर आप 121 रुपये रोजाना बचाकर महीने के 3600 रुपये के प्रीमियम का भुगतान करते हैं तो आपको यह प्रीमियम सिर्फ 22 साल तक ही देना होगा। यानी पूरे 25 सालों तक आपको इसकी प्रीमियम जमा नही करनी हैं। आपको सिर्फ 22 साल तक ही इस स्कीम मे प्रीमियम जमा करनी होगी। और पॉलिसी के 25 साल पूरे होने के बाद आपको मेचूरिटि पर 27 लाख रुपये मिलेंगे।

लेकिन LIC Kanyadan पॉलिसी के अंतर्गत जो भी व्यक्ति इस पॉलिसी को लेता है तो वह अपनी आय के हिसाब से भी प्रीमियम की राशि घटा या बढ़ा सकता है।

जैसे यदि कोई व्यक्ति 75 रुपये रोजाना के जमा करता है, तो उसे मासिक प्रीमियम देने के 25 साल बाद बेटी के विवाह के समय 14 लाख रुपये मिलेंगे।

अगर कोई व्यक्ति 251 रुपये रोज बचाता है, तो उसे मासिक प्रीमियम देने के 25 साल बाद 51 लाख रुपये मिलेंगे।

तो जरूरी नही की आप 121 रुपये प्रतिदिन दिन से यानी महीने के 3600 रुपये जमा करें। यदि आप इससे ज्यादा जमा कर सकते हैं तो आप ज्यादा जमा करें। यदि आप ₹121 नहीं जमा कर सकते तो इससे कम प्रीमियम वाला प्लान भी ले सकते है।

प्रीमियम का भुगतान कैसे और कब करना होगा?

तो आप इस LIC Kanyadan Policy योजना के अंतर्गत प्रीमियम का भुगतान अपनी सहूलियत के हिसाब से कर सकते हैं। आप चाहे तो प्रीमियम का भुगतान रोज कर सकते हैं या फिर 6 महीने में या 3 महीने में या फिर 1 महीने में। जैसे भी आपको ठीक लगे आप वैसे प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं।

इस पॉलिसी को लेने के लाभ क्या हैं?

तो पहला लाभ तो यह है की इस पॉलिसी के अंतर्गत बीमाधारक की मृत्यु हो जाती है, तो उसके परिवार को तुरंत 5 लाख रुपये दिए जाएंगे। उसके परिवार को इस पॉलिसी में प्रीमियम का भुगतान भी नहीं करना होगा | तथा उसके परिवार को हर साल एलआई सी कम्पनी द्वारा, 1 लाख रूपये दिए जायेगे और पॉलिसी के 25 साल पूरे होने के बाद पॉलिसी के नॉमिनी को अलग से 27 लाख रूपये प्रदान किये जायेगे। योजना के दौरान पालिसीधारक को मिलनेवाला मृत्यु लाभ वार्षिक किस्त के रूप में दिया जाता है, जो पॉलिसीधारक की मृत्यु के बाद उसके परिवार की वित्तीय जरूरतों को पूरा करता है।

इस योजना में आपको हर साल एलआईसी द्वारा घोषित किए गए बोनस का लाभ भी मिलता है।
और यदि बीमाधारक की मृत्यु किसी एक्सीडेंट में होती है, तो उसके परिवार को 10 लाख रुपये दिए जाएंगे। यह एलआईसी कन्यादान पॉलिसी हर साल अपने पूरे जीवन काल तक शादी करने के बाद भी भुगतान करती रहती है। यदि बीमाधारक की मृत्यु 25 वर्ष की अवधि के बीच होती है, तो मूल बीमा राशि का 10 फीसदी मृत्यु के वर्ष से हर साल मेचूरिटि की तारीख तक दिए जाएंगे।

कन्यादान पॉलिसी के कुछ अतिरिक्त लाभ-

यदि पॉलिसी धारक पॉलिसी आरंभ होने के 12 महीने के अंदर आत्महत्या कर लेता है तो उसे इस पॉलिसी का कोई लाभ नहीं प्रदान किया जाएगा।

पॉलिसी धारक को 15 दिन का फ्री लुक पीरियड, पॉलिसी शुरू होने की तारीख से प्रदान किया जाता है। यदि पॉलिसीधारक पॉलिसी की किसी भी नियम व शर्तों से संतुष्ट नहीं है तो वह पॉलिसी से बाहर निकल सकता है।

इस पॉलिसी के अंतर्गत 30 दिन का ग्रेस पीरियड मिलता है अगर आप प्रीमियम का भुगतान वार्षिक या त्रैमासिक भुगतान करते हैं तो मासिक भुगतान की स्थिति में 15 दिन का ग्रेस पीरियड प्रदान किया जाता है। ग्रेस पीरियड के दौरान पॉलिसी धारक से कोई भी लेट फीस की वसूली नहीं की जाती है। यदि पॉलिसी धारक ग्रेस पीरियड की एक्सपायरी डेट से पहले प्रीमियम का भुगतान नहीं करता है तो उसकी पॉलिसी टर्मिनेट कर दी जाएगी।

अगर कोई पॉलिसी धारक इस LIC Kanyadan Policy को सरेंडर करना चाहता है तो कम से कम इसमे 3 वर्षों तक प्रीमियम का भुगतान करना होगा तभी इस योजना के अंतर्गत पॉलिसी सरेंडर करने की अनुमति प्रदान की जाती है। मतलब कम से कम 3 वर्ष तक तो इसे चालू रखना ही पड़ेगा।

एल आई सी कन्यादान पॉलिसी आयकर लाभ

LIC Kanyadan के अंतर्गत इनकम टैक्स अधिनियम 1961 के सेक्शन 80C के तहद प्रीमियम पर, अधिक से अधिक डेढ़ लाख रुपए तक की छूट प्राप्त की जा सकती हैं। यह छूट इसी के साथ सेक्शन 10(10D) के अंतर्गत मैच्योरिटी या मृत्यु क्लेम की राशि पर भी छूट प्रदान की जाती है।

इस एलआईसी कन्यादान पॉलिसी 2021 के लिए आवेदन कैसे करे?

जो इच्छुक लाभार्थी इस पॉलिसी के अंतर्गत आवदेन करना चाहते है तो आपको अपने नज़दीकी LIC ऑफिस /LIC एजेंट से संपर्क कर सकते है और आपको वहाँ जाकर बताना होगा कि आप एलआई सी कन्यादान पालिसी में इन्वेस्ट करना चाहते है | तब वह आपको LIC कन्यादान पालिसी के टर्म बताएगा आपको अपनी इनकम के अनुसार उसे चुनना होगा फिर LIC एजेंट को आपको अपनी सभी जानकारी और अपने दस्तावेज़ देने होंगे इसके बाद वह आपका फॉर्म भर देंगे | इस तरह आप एलआईसीकन्यादान पॉलिसी योजना 2021 से जुड़ सकते है| | योजना से जुड़ी और अधिक जानकारी पाने के लिए आप LIC की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर देख सकते है |

Read Also

प्रधान मंत्री आवास योजना 2020 

Sukanya Samriddhi Scheme 2020 ( सुकन्या समृद्धि योजना

पैसे से पैसा बनाने के 10 टिप्स [How do I invest Money to make Money]

ड्राइविंग लाइसेंस Online कैसे बनवाएँ (Driving Licence kaise bawayen)?

What is Fixed Deposit (FD) Account – फिक्स्ड डिपाजिट अकाउंट क्या होता है ?

State Bank of India (SBI) Recurring Deposits (RD) Account

Senior Citizen Saving Scheme (2020) वरिष्ठ नागरिक बचत योजना

PPF Scheme During Lock-down Period (पीपीएफ़ अकाउंट सम्पूर्ण जानकारी)

NSC or KVP- Which is better Investment Option पोस्ट ऑफिस की कोनसी स्कीम सबसे अच्छी “एनएससी या केवीपी”

जानिये उन छुट के वारे मे जिनसे बचा सकते हैं टैक्स (Tax Rebate)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *